जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा | Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में बैठने से पहले आपको Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam से सम्बंधित जानकारी जुटा लेनी चाहिए | ताकि आप अपनी तैयारी सही दिशा में कर सकें और इस परीक्षा में सफल हो सके|

जवाहर नवोदय विद्यालय क्या है ?

जवाहर नवोदय विद्यालय (Jawahar Navodaya Vidyalaya) एक सरकारी स्कूल शिक्षा संस्थान है जो भारत में विभिन्न राज्यों में स्थित है। ये विद्यालय आदर्शवादी शिक्षा प्रदान करते हैं और सरकारी माध्यमिक शिक्षा को उत्कृष्टता के स्तर तक ले जाने का उद्देश्य रखते हैं।

जवाहर नवोदय विद्यालय छात्रों के व्यक्तित्व विकास, शिक्षा, और सामाजिक रूप से उनकी स्थिति में सुधार के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

जवाहर नवोदय विद्यालय बेहतर क्यों ?

जवाहर नवोदय विद्यालय हमारे देश की एक ऐसी संस्था है जहां आपको हमारे देश के सबसे अच्छी शिक्षा व्यवस्था और शिक्षा बच्चों को दी जाती है|

जवाहर नवोदय विद्यालय बेहतर कई कारणों से माने जाते हैं:

  1. आदर्शवादी शिक्षा प्रणाली: जवाहर नवोदय विद्यालय आदर्शवादी शिक्षा प्रदान करते हैं जिसमें छात्रों के व्यक्तित्व के सम्पूर्ण विकास को महत्व दिया जाता है। इन विद्यालयों में शिक्षा की सामाजिक समानता और जीवन कौशलों को सीखाने पर बल दिया जाता है।
  2. छात्रों का चयन प्रक्रिया: जवाहर नवोदय विद्यालयों में छात्रों का चयन एक समर्पित प्रक्रिया द्वारा किया जाता है, जिसमें गरीबी और आदर्शवादी माध्यम से छात्रों को प्राथमिकता दी जाती है। इससे शिक्षा का व्यापक और समान दृष्टिकोण बनाए रखने में मदद मिलती है।
  3. शैक्षिक और सामाजिक संरचना: इन विद्यालयों में शिक्षा और सामाजिक संरचना को बेहतर बनाने के लिए विशेष उपाय किए जाते हैं। यहाँ पर छात्रों के लिए विशेष संसाधन, शैक्षिक गतिविधियाँ और कैंपस जीवन में सुविधाएँ होती हैं जो उनके संपूर्ण विकास को बढ़ावा देती हैं।
  4. विशेष सुविधाएँ: जवाहर नवोदय विद्यालयों में छात्रों के लिए विशेष सुविधाएँ उपलब्ध होती हैं जैसे कि सुंदर और सुरक्षित कैंपस, सुसज्जित कक्षाएँ, विशेष कक्षाएँ (लैब, कंप्यूटर शाला, पुस्तकालय आदि)। इन सभी सुविधाओं से छात्रों की अच्छी शिक्षा और उनके समृद्ध विकास का समर्थन किया जाता है।
  5. सरकारी समर्थन: जवाहर नवोदय विद्यालय सरकारी स्तर पर समर्थन प्राप्त करते हैं, जिससे इन विद्यालयों के पास अच्छी शिक्षा प्रदान करने के लिए आवश्यक संसाधन और अधिकृतता होती है।

इन सभी कारणों से जवाहर नवोदय विद्यालय छात्रों के लिए एक उत्कृष्ट शिक्षा संस्थान माने जाते हैं जो उनके भविष्य के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश कैसे ?

जवाहर नवोदय विद्यालय (Jawahar Navodaya Vidyalaya) में प्रवेश के लिए एक विशेष चयन प्रक्रिया होती है। यहाँ पर मुख्य चरणों को समझाया गया है:

  1. चयन परीक्षा (Selection Test): जवाहर नवोदय विद्यालयों में प्रवेश के लिए चयन परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इस परीक्षा का उद्देश्य छात्रों की ज्ञान, बुद्धि, और शैली को मापना होता है। प्रवेश परीक्षा में विभिन्न विषयों के प्रश्न होते हैं जैसे कि भाषा योग्यता , गणित और मानसिक योग्यता परीक्षण ।
  2. चयन के लिए अंक गणना: चयन परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों के अंकों के आधार पर एक मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है। यह लिस्ट उन छात्रों को चयनित करती है जिन्होंने परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त किए होते हैं।
  3. जिला स्तर परीक्षा: चयन प्रक्रिया में कई राज्यों में जिला स्तर पर एक अत्यधिक विद्यालयी चयन परीक्षा का आयोजन होता है।
  4. नवोदय विद्यालय में कक्षा 6 तथा कक्षा 9 में प्रवेश परीक्षा के द्वारा दाखिला पा सकते हैं|
जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा | Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam

Google Play store Link : Jivansh Coaching ( Click Here )

Youtube Link : Online Navodaya ( Click Here )

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा योजना

जवाहर नवोदय विद्यालय (Jawahar Navodaya Vidyalaya) में प्रवेश परीक्षा की योजना निम्नलिखित तरीके से होती है:

  1. परीक्षा प्रकार: प्रवेश परीक्षा एक चयन परीक्षा होती है जिसमें छात्रों को विभिन्न विषयों में प्रश्न पूछे जाते हैं। परीक्षा में सामान्यतः निम्नलिखित विषयों के प्रश्न होते हैं:
  • भाषा योग्यता परीक्षण
  • अंकगणित
  • मानसिक योग्यता परीक्षण
  1. प्रवेश परीक्षा की भाषा: प्रवेश परीक्षा हिंदी और अंग्रेजी को मिलाके 21 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध होती है। छात्र अपनी पसंदीदा भाषा में परीक्षा दे सकते हैं।
  2. परीक्षा का प्रारूप: प्रवेश परीक्षा में सामान्यतः वस्तुनिष्ठ प्रश्न होते हैं जो छात्रों की बुद्धिमत्ता, गणित और समस्या समाधान क्षमता, भाषा अभियोग्यता को मापते हैं। प्रश्न वस्तुनिष्ठ होते हैं और छात्रों को समस्याओं का समाधान करना होता है।
  3. परीक्षा का कार्यक्रम: प्रवेश परीक्षा का कार्यक्रम स्थानीय जवाहर नवोदय विद्यालय द्वारा निर्धारित किया जाता है और परीक्षा का समय, दिनांक, और प्रवेश प्रक्रिया के संबंध में सभी जानकारी स्थानीय अख़बारों और विद्यालयों के वेबसाइट पर प्रकाशित की जाती है।
  4. चयन प्रक्रिया: प्रवेश परीक्षा के परिणाम के आधार पर एक मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है। इस मेरिट लिस्ट के आधार पर चयनित छात्रों को जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश दिया जाता है।

यह प्रक्रिया विभिन्न जिलों और राज्यों में थोड़ी भिन्नता भी हो सकती है, लेकिन सामान्य रूप से ये चरण जवाहर नवोदय विद्यालय में प्रवेश प्रक्रिया का हिस्सा होते हैं।

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा में अंकयोजना

प्रश्नों की संख्या विषयनिर्धारित अंक
40 प्रश्न तार्किक योग्यता यानी रिजनिंग50 अंक
20 प्रश्न अंकगणित 25 अंक
20 प्रश्न भाषा अभियोग्यता25 अंक
  • Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam  के लिए आपको 2 घंटे 30 मिनट का समय दिया जाता है।
  • इस परीक्षा में आपसे कुल 80 प्रश्न और कुल 100 अंक के प्रश्न पूछे जाते हैं। मतलब  हर एक प्रश्न के लिए आपको 1.25 अंक दिए जाते हैं।
  • जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रवेश परीक्षा में सारे प्रश्न ऑब्जेक्टिव की तरह होते हैं यानी आपको हर एक प्रश्न के लिए चार option मिलेंगे।

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा की उत्तर पेपर

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा | Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा पाठ्यक्रम ( Jawahar Navodaya Vidyalaya Entrance Exam Syllabus)

तार्किक योग्यता ( Reasoning )

तार्किक योग्यता टेस्ट को 10 भागों में बांटा गया और हर एक भाग में 4 प्रश्न पूछे जाएंगे|

अंकगणित

यह भाग इस परीक्षा के सबसे अहम् भाग होता है जिसमे निम्न प्रकरण से प्रश्न पूछे जायेंगे ।

भाषा अभियोग्यता

इस भाग में आपके चयनित भाषा के कुल 4 गद्यांश दिए जाएंगे और हर एक गद्यांश से 5 प्रश्न पूछे जाएंगे।